Neha Health

6/recent/ticker-posts

Moderna Vaccine

माॅडर्ना वैक्सीन(Moderna Vaccine)

माॅडर्ना वैक्सीन पंजीकरण,प्रभावकारिता, दुष्प्रभाव,मुल्य,खुराक मे अंतर(Moderna Vaccine Registration, Efficacy, Side Effects, Price, Dosage Differences)

इस आर्टिकल में आपको माॅडर्न वैक्सीन के बारे में जानकारी देंगे। में आशा करती हूं आपके लिए आर्टिकल बहुत हेल्पफुल रहे ।

 यह लेख मॉडर्न COVID-19 वैक्सीन की प्रभावकारिता के साथ-साथ इसके संभावित दुष्प्रभावों पर चर्चा करेगा। यह महामारी को समाप्त करने में इसकी संभावित भूमिका सहित एक COVID-19 वैक्सीन प्राप्त करने के लाभों पर भी विचार करेगा।

मॉडर्न वैक्सीन वर्तमान में संयुक्त राज्य अमेरिका और अन्य देशों में COVID-19 से बचाव के लिए उपलब्ध टीकों में से एक है, जो कि उपन्यास कोरोनवायरस का कारण बनने वाली बीमारी है।

कोरोना वायरस से बचाव के लिए चौथे 'कवच' यानी सबसे प्रभावी कहीं जाने वाली मैसेंजर आरएनए मॉडर्ना वैक्सीन को  ड्रग कंट्रोलर जनरल आफ इंडिया(डीसीजीआइ)ने देश में आपात प्रयोग की मंजूरी दे दी है। मुंबई स्थित दवा कंपनी सिल्पा ने इसके आयात व वितरण से जुड़े अधिकारी अनुमति मांगी थी जिसे दिया जाए ने स्वीकार किया है जो देश में उत्पादित होकर सीधे अमेरिका से आयात होगा।

Also Read This Article-
-Third Wave Of Covid-19 In India
-What Is Delta Plus
 -shirshasana

-Covaxin Trial On Kids

क्षतिपूर्ति पर संशय माॅडर्ना इन्डेम्निटी मुक्त रखने की मांग की थी। यानी वैक्सीन से यदि लगवाने वाले को कोई दिक्कत होती है तो वह कोई हर्जाना नहीं देगी। डॉ.वीके पाॅल के अनुसार क्षतिपूर्ति का मामला अभी विचाराधीन है।मॉडर्ना ने एक पत्र में कहा है कि अमेरिका ने भारत को 'कोवैक्स'अभियान के जरिए यह वैक्सीन दान में देने के लिए भी सहमति दी है।

माॅडर्ना वैक्सीन(Moderna Vaccine)

क्लिनिकल परीक्षण और वास्तविक दुनिया के आंकड़े बताते हैं कि मॉडर्न वैक्सीन वयस्कों को वायरस और इसकी जटिलताओं से प्रभावी ढंग से और सुरक्षित रूप से बचाता है।

 दवा कंपनी के मुताबिक इस टीके की 2डोज लेने से आप कोरोना या कोविड-19 बच सकते हैं। वैक्सीन लेने के लिए आपकी उम्र कम से कम 18 साल होनी चाहिए। यूएस फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन ने आपात स्थिति में ही इस दवा के इस्तेमाल को मंजूरी दी है।

माॅडर्ना वैक्सीन पंजीकरण(Moderna Vaccine Registration)

इस टीके को अन्य टीकों की तुलना में अधिक प्रभावी बताया गया है।सरकार की मंजूरी के बाद वैक्सीन के लिए रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया जारी की जाएगी।अगर आप भी मॉडर्ना वैक्सीन रजिस्ट्रेशन फॉर्म भरना चाहते हैं तो इसकी जानकारी आपको जल्दी दी जाएगी। भारत में पंजीकरण प्रक्रिया अभी तक जारी नहीं की गई है। मॉडर्ना वैक्सीन कंपनी ने अभी तक भारत तक भारत में दवा की लाॅन्चिंग को लेकर सरकार से बातचीत शुरू नहीं की है।

फिलीपींस के लिए माॅडर्ना वैक्सीन पंजीकरण जारी किया गया है। इस टीके का सही असर देखने के लिए आपको इस टीके की 2खुराक लेनी होगी। वैक्सीन के लिए पंजीकरण करने के लिए, आपको आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।रजिस्ट्रेशन के लिए दिए गए निर्देशों का पालन करके आप माॅडर्न के लिए रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं।

मॉडर्ना वैक्सीन प्रभावकारिता(Moderna Vaccine Efficacy)

 मॉडर्ना आरक्षण पर किए गए शोध के मुताबिक इस व्यक्ति के आने के बाद से 95% तक मरीजों में स्पीकर का असर देखा गया है मरीजों के शरीर में इंजेक्ट करने के बाद यह दवा 95% कोरोनावायरस को खत्म कर सकती है शोधकर्ताओं के मुताबिक अगर आपको वैक्सिंग के की दोनों डोज दी गई तो आपको कोरोना संक्रमण होने की संभावना सिर्फ 5% है शरीर में प्रवेश करने के बाद यह दवा खून के साथ मिलकर कोरोनावायरस को मार देती है।

इस दवा के प्रभाव को देखने के लिए और यह जांचने के लिए कि यह दवा कितने योग्य है, आपको इसकी दोनों खुराकों को आजमाना चाहिए। दोनों डोज के बाद ज्यादातर मरीजों में 95फीसदी तक पॉजिटिव आंकड़े पाए गए हैं। इस दवा का उपयोग करते समय आपको कुछ सावधानीयां रखनी पड़ेगी जिसका उल्लेख नीचे लेख में किया गया है। कंपनी की ओर से दिए गए आंकड़ों के मुताबिक माॅडर्न वैक्सीन की प्रभावकारिता दर लगभग 95%है।

Also Read This Article-

-Which Vaccine Is Better Covishield Or -Covaxin
-black fungus infection
-Ivermectin

माॅडर्न वैक्सीन की कीमत(Modern Vaccine Price)

अब अमेरिका में खाद्य एवं औषधि प्रशासन ने केवल आपातकालीन उपयोग के लिए अनुमति दी है। फिलहाल दवा की कीमत के बारे में कुछ नहीं कहा जा सकता है। भारत में जल्द ही इस दवा को मंजूरी मिल सकती है। भारत में माॅडर्न वैक्सीन की कीमत इंटरनेट पर सर्च की जा रही है। आपको बता दें कि फ़िलहाल इस दवा की कीमत के बारे में कोई आधिकारिक जानकारी नहीं दी गई है।

 इस दवा को दी गई मंजूरी में इसके रेट के बारे में कोई जानकारी नहीं दी गई है।अमेरिका में माॅडर्न वैक्सीन की कीमत जल्द ही घोषित की जाएगी। आप इसके बारे में सभी जानकारी आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर प्राप्त कर सकते हैं। अनुमान है कि भारत में इसकी कीमत 800रूपये हो सकती है। 

मॉडर्न वैक्सीन साइड इफेक्ट(Modern Vaccine Side Effects)

 आप पहली खुराक के कुछ दिनों बाद मॉडर्ना वैक्सीन के  साइड इफेक्ट देख सकते हैं। ठंड लगना, सिर दर्द, थकान और वैक्सीन इंजेक्शन के स्थान पर दर्द, त्वचा का लाल होना और सूजन जैसे दुष्प्रभाव देखे गए हैं। वैक्सीन के बाद दिखने वाली माॅडर्न वैक्सीन साइड इफेक्ट फसर्ट डे से ही दिखना शुरू हो सकती है। यदि आप दिए गए दुष्प्रभावों के अलावा किसी अन्य दुष्प्रभाव से पीड़ित हैं, तो आपको डाॅक्टर से परामर्श लेना चाहिए। दुष्प्रभावों के अलावा किसी अन्य दुष्प्रभाव से पीड़ित हैं, तो आपको डाॅक्टर से परामर्श लेना चाहिए।

दिए गए दुष्प्रभावों से छुटकारा पाने के लिए आपको कुछ सामान्य प्रयास करने चाहिए। आपको उस हाथ को हिलाना चाहिए। जिसमें आपको इंजेक्शन लगाया गया है, और बहुत सारे तरल पदार्थ पीना चाहिए। दर्द को कम करने के लिए आप ब्रफिन जैसी दवा का भी सहारा ले सकते हैं‌। दी गई जानकारी के अनुसार साइड इफेक्ट दिखने पर आपको घबराने की जरूरत नहीं है।

 वह देश जहां मॉडर्न वैक्सीन स्वीकृत है(Country Where Moderna Vaccine Is Approved)

ऑस्ट्रेलिया,कनाडा,चेकया,फैरोद्विप,जर्मनी,ग्वाटेमाला,आइसलैंड,

बेल्जियम,क्रोएशिया,डेनमार्क,फिनलैंड,यूनान,होंडुरास,आयरलैंड,बुल्गारिया, साइप्रस, एस्तोनिया, फ्रांस, ग्रीनलैंड, हंगरी, इजराइल,इटली,लातविया,लिकटेंस्टाइन,लिथुआनिया,लक्समबर्ग,माल्टा, मंगोलिया, नीदरलैंड,नाॅर्वे, फिलीपींस, पोलैंड, पुर्तगाल,कतर, रोमानिया, रवांडा, सेशल्स, सिंगापुर, स्लोवाकिया, स्लोवेनिया, स्पेन, स्वीडन, स्विट्जरलैंड,ग्रेट ब्रिटेन और उत्तरी आयरलैंड का यूनाइटेड किंगडम, संयुक्त राज्य अमेरिका, पश्चिमी तट

मॉडर्न वैक्सीन खुराक अंतर(Modern Vaccine Dosage Difference)

माॅडर्न वैक्सीन की खुराक के बीच आपको कम से कम 21 दिनों का अंतर देखना होगा। वैक्सीन लगाते समय आप डॉक्टर से इस बारे में पूछ सकते हैं। वैक्सीन की पहली खुराक के कम से कम 3 सप्ताह बाद रोगी को दूसरी खुराक लेनी चाहिए। पहली खुराक लेने के बाद आप टीके के कुछ दुष्प्रभावों का अनुभव कर सकते हैं। इन दुष्परिणामों को देखने के बाद आपको अपनी दूसरी खुराक लेने से मना नहीं करना चाहिए।

दोनों डोज लगाने के बाद ही मरीज को कोरोना वायरस से पुरी सुरक्षा मिलेगी। आप अपने सवाल हमें नीचे कमेंट बॉक्स में लिखकर भेज सकते हैं। हमारे होम पेज पर आपको कोरोना वायरस से जुड़ी हर जानकारी दी जाएगी।

आधिकारिक वेबसाइट-यहां क्लिक करें

Post a Comment

0 Comments