Neha Health

6/recent/ticker-posts

These signs will tell you that you are doing over-training which you should not do.

These signs will tell you that you are doing over-training which you should not do.


ये संकेत आप को बताएंगे कि आप ओवर ट्रेनिंग कर रहे हैं जो कि नहीं करनी चाहिए।These signs will tell you that you are doing over-training which you should not do.


अगर आप व्यायाम ट्रेनिंग कुछ ज्यादा ही कर लेते हैं, तो यह आपके शरीर के कुछ अंगों के लिए हानिकारक हो सकती है। जानिए कैसे।

(1).हर समय सुस्त महसूस करना (Lazyness)Feeling sluggish all the time.

सुस्त महसूस करने के कई कारण हो सकते हैं जैसे नींद की कमी, तनाव आदि। यदि आप अपनी नींद को पूरी किए बिना ही ओवर वर्क आउट कर लेते हैं और उस की थकान को उतारने में असमर्थ रहते हैं तो संभवतः आप थका हुआ व सुस्त महसूस करेंगे। इस लिए कोशिश करें कि आप अपने शरीर को पर्याप्त आराम दे सकें।

lazyness

(2).वर्काउट में कमी आ रही हैWorkout is decreasing

सामान्य तौर पर आप जितनी भी फिजिकल एक्टिविटी करते थे,पर अब उसने एक्टिविटी भी नहीं कर पा रहे तो समझ लेना चाहिए कि आप ऊपर ट्रेनिंग कर रहे हैं जो कि आपके लिए उचित नहीं।

ओवरट्रेनिंग करने से शरीर का स्टैमिना पहले की भांति पूरी तरीके से साथ नहीं देता । अगर सच में आपके साथ ऐसा हो रहा है तो आपको समझ जाना चाहिए कि आप ओवर ट्रेनिंग के शिकार हैं और आपको अपने रूटीन में बदलाव की जरूरत है। आपको अपने जिम से कुछ देर का ब्रेक लेना चाहिए।


(3).यदि वजन कम नहीं हो रहाIf not losing weight

अक्सर देखने में आता है कि ओवर ट्रेनिंग के दौरान लोगों का वजन कम होने की जगह बढ़ने लगता है और वह यह सोच कर परेशान होते हैं कि ,'वर्कआउट तो पूरा कर रहे हैं '।


दरअसल वर्कआउट के समय जब जरूरत से ज्यादा एनर्जी का लॉस होता है तो भूख भी तेजी से लगती है। कारण डाइट असंतुलित हो जाती है। असंतुलित डाइट से हार्मोन असंतुलन की स्थिति उत्पन्न हो जाती है। इस वजह से टेस्टोस्ट्रोन का स्तर कम और कार्टिसोल का स्तर  ज्यादा हो जाता है।  परिणामस्वरूप वजन  बढ़ने लगता है।

lazyness

(4).मन या मूड का शीघ्रता से बदलना (Mood swings)Rapid change of mind or mood

यदि आप के जल्दी जल्दी मूड स्विंगस हो रहे हैं जैसे आप पहले के मुकाबले अधिक चिंतित या एक दम से अधिक उत्तेजित महसूस करते हैं तो यह भी आवर ट्रेनिंग का एक लक्षण है।

इसका एक कारण सोते समय कठिनाई महसूस करना हैं। जैसे नींद का न आना व बेचैन होना तो संभव है कि आप ओवर ट्रेनिंग कर रहे हैं।

These signs will tell you that you are doing over-training which you should not do.
These signs will tell you that you are doing over-training which you should not do.

.
(5).मांसपेशियों में अधिक दर्द होना (Muscles Pain)

अधिक वर्क आउट करने से आप की मांसपेशियों को प्रर्याप्त आराम नही मिल पाता। जिस कारण आप को उन में अधिक खिंचाव महसूस होता है। यह ओवरट्रोनिंग करने या जिम में बहुत अधिक वर्कआउट करने के लक्षण हैं।

इस वजह से मांसपेशियों में दर्द रहता है। खासकर कि पिंडलियों, कंधे, घुटनों व कलाईयों  में अधिक परेशानी महसूस होती है।

(6).कमजोर इम्यून सिस्टम(Weak Immune System)

ओवर ट्रेनिंग कााा साइड इफेक्ट है किि शरीर की एनर्जी काफी कम हो जाती है । जिससे  इम्यून सिस्टम पर असर पड़ता है  और शरीर  बीमारियों से  लड़ नहीं पाता ।  इसलिए ओवरट्रेनिंग से बचना चाहिए।

(7).स्किन इंफेक्शन (Skin infection)

वर्कआउट के समय अधिक पसीने आ रहे हैं और आपके दिल की धड़कन तेज हो रही है या फिर इन पसीनों के कारण शरीर पर रैशेज या फिर पित्त उभर कर आ रही हैं और उन में खुजली भी महसूस हो रही है । तो यह तीनों साइन आपको बताते हैं कि आप ओवरट्रेनिंग का शिकार हैं।

Post a Comment

0 Comments