Neha Health

6/recent/ticker-posts

State Government Health Services

State Government Health Services


राज्य सुधारे स्वास्थ सेवाState Government Health Services


नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोना वायरस से लड़ने के लिए देश भर के राज्यों के मुख्यमंत्रियों से अपने राज्य की स्वास्थ्य सुविधाओं को ठीक करने को कहा है। उन्होंने बुधवार को लगातार दूसरे दिन मुख्यमंत्रियों के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए चर्चा की। मंगलवार को प्रधानमंत्री ने 21 राज्यों के मुख्यमंत्रियों और उप राज्यपाल से चर्चा की थी। बचे हुए राज्यों के साथ बुधवार को विचार विमर्श किया गया।

मुख्यमंत्रियों से चर्चा के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उन्हें बताया कि वायरस का संक्रमण रोकने के लिए लागू किए गए लॉकडाउन में लाखों लोगों को ट्रेस किया गया। उन्होंने यह भी कहा कि आज देश का हर नागरिक वायरस के प्रति पहले से ज्यादा सचेत हुआ है। प्रधानमंत्री ने कहा- हमें स्वास्थ्य के बुनियादी ढांचे, सूचना तकनीक के सेक्टर, जन भागीदारी आदि पर इसी तरह जोर देना होगा। हेल्थ इन्फ्रास्ट्रक्चर का विस्तार करना हमारी प्राथमिकता होनी चाहिए।

प्रधानमंत्री ने कहा- टेस्टिंग पर हमें जोर देना होगा, ताकि संक्रमित को ट्रेस कर सकें और इलाज कर सकें। कोरोना संकट से निपटने के उपायों पर विचार के लिए बुधवार को हुई वीडियो कांफ्रेंसिंग में महाराष्ट्र, तमिलनाडु और दिल्ली सहित सबसे ज्यादा प्रभावित राज्य और केंद्र शासित प्रदेशों के मुख्यमंत्री शामिल हुए। इस वीडियो कांफ्रेंसिंग में आधा दर्जन मुख्यमंत्रियों ने अपनी बात रखी और बाकी मुख्यमंत्रियों के लिखित रूप में अपनी बात रखने को कहा गया। इस बैठक में अनलॉक-एक में पैदा हुए हालात पर विचार किया गया। इससे पहले मंगलवार की बैठक में प्रधानमंत्री ने राज्यों से कहा था कि कोरोना से भारत की लड़ाई बाकी देशों के मुकाबले बहुत बेहतर है और देश में अर्थव्यवस्था की हालत में भी सुधार शुरू हो गया है।

State Government Health Services
State Government Health Services

कोविड-19 में सेवाओं के लिए स्वास्थ्यकर्मीप्रशिक्षित Health workers trained for services in Kovid-19


मोहम्मदाबाद में बने कोविड-19 केयर अस्पताल में स्वास्थ्यकर्मी और अन्य पैरामेडिकल कर्मचारी सेवाएं देने से पहले प्रशिक्षित किए गए। बुधवार के साथ ही गुरुवार को भी प्रशिक्षण दिया जाएगा। कर्मचारियों को डयूटी से पहले समय-समय पर प्रशिक्षित भी किया जा रहा है। मुख्य चिकित्सा अधिकारी कार्यालय के प्रशिक्षण भवन में रिवीजन ट्रेनिंग कार्यशाला का आयोजन किया गया। मोहम्मदाबाद के चिकित्साधीक्षक डॉ आशीष राय ने प्रशिक्षण दिया।

बुधवार को आयोजित प्रशिक्षण में डॉ. आशीष राय ने कार्यशाला में इनफेक्शन एंड प्रीवेंसन कंट्रोल के तहत ‘हम खुद कोरोना से कैसे बचें और अन्य लोगों को कैसे बचाएं इसके बारे में विस्तृत रूप से जानकारी दी। स्वास्थ्यकर्मी एवं स्टाफ प्रशिक्षित होकर मोहम्मदाबाद में कोरोना संक्रमित मरीजो के लिए बनाए गए कोविड केयर अस्पताल में ड्यूटी करेंगे। स्वास्थ्य कर्मियों एवं अन्य पैरा मेडिकल स्टाफ की 25-25 सदस्यों की अलग-अलग टीम बनाई गई है। डॉ आशीष राय ने कहा कि प्रशिक्षण में कोविड केयर यूनिट में किस तरीके से पीपीई किट का उपयोग करना है, कार्य के पहले और कार्य खत्म करने के उपरांत हाथों को ‘सुमन-के के अनुसार कैसे धुलना है, कोविड-19 के बायो मेडिकल वेस्ट को कैसे और कहां डिस्पोज करना है आदि के बारे में बताया गया। साथ ही बताया गया कि अस्पताल में किस स्थान पर कौन सा प्रोटेक्शन किट कब पहनना है ताकि हम अपने आप को सुरक्षित रख सकें। प्रशिक्षण में मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ जी सी मौर्य, एसीएमओ डॉ डीपी सिन्हा, एसीएमओ डॉ प्रगति कुमार मुख्य रूप से मौजूद रहे।

Post a Comment

0 Comments